अगवानी पृ-39

ज्ञानकोश से
यहां जाएं: भ्रमण, खोज


Agwani-page-39-b.jpg

यह युग है आदान-प्रदान का। अगर हम प्रौद्योगिकी के साथ हाथ मिलाकर नहीं चलेंगे तो अपेक्षित विकास नहीं कर पाएंगे। मैं चाहूंगा कि हमारा संस्थान प्रौद्योगिकी के माध्यम से लैंग्वेज कम्प्यूटिंग के क्षेत्र में इतना विकास करे जितना अभी तक कोई शीर्ष संस्था न कर पाई हो। हमारे पास सारे अधिकार हैं। पर्याप्त धन है। कम पड़े तो मैं मंत्री जी से कहूँगा कि हमारे संस्थान की अब इतने कम धन से बात नहीं बनेगी। हमारे बहुत सारे कार्मिक हैं, जिनकी पदोन्नतियाँ रुकी हुई हैं। नई नियुक्तियाँ होनी हैं, वे भी हों। सब चीजें होंगी, बशर्ते हम कर्मठ होकर प्रौद्योगिकी के साथ चलना सीख जाएं। यह तब होगा जब आप सब इसमें सहयोग देंगे।

इस क्षेत्र में सरकारी सहायता प्राप्त सी-डैक नामक कंपनी ने बहुत काम किया है। 'मंत्र' सॉफ्टवेयर में अनुवाद की सुविधा है। 'प्रवाचक' ऐसा सॉफ्टवेयर है हिंदी पाठ की किसी भी फाइल को हरीश भिमानी की आवाज़ में पढ़कर सुना देगा। श्रुतलेखन ऐसा है, जिसमें आप बोलिए और आपका बोला हुआ, साथ के साथ हिंदी पाठ में रूपांतरित होता जाएगा। प्रबोध-प्राज्ञ-प्रवीण के बाद अब ई-महाशब्दकोश भी हमारे पास है, जिसमें लाखों शब्दों की संरचना है।

Agwani-page-39-a.jpg

हमारी एक परियोजना है 'लघु हिंदी विश्वकोश'। मुझे खुशी है कि उसके संपादक प्रो. इन्द्रनाथ चौधरी हमारे बीच उपस्थित हैं। इन्होंने बिना किसी मानदेय की कामना के, बिना किसी पारिश्रमिक के, इस लघु हिंदी विश्वकोश को बनाने का बीड़ा उठाया है। इनका मानना है कि भविष्य में इसे इंसाइक्लोपीडिया ब्रिटैनिका की तर्ज पर वृहत आकार दिया जा सकता है।

हम चाहते हैं कि भविष्य में अंतर्राष्ट्रीय स्तर की श्रेष्ठतम भाषा-प्रयोगशाला हमारे पास हों। जहाँ हम कम्प्यूटर और प्रौद्योगिकी के माध्यम से और भी बड़े-बड़े काम कर सकें। दिल्ली में हमारा नया भवना बना है, हम जल्द ही वहाँ स्थानांतरित होने वाले हैं। हमारे नौजवान, इनमें विदेशी भी और हमारे अपने देश के भी, नई-नई योजनाओं से लाभान्वित होंगे। मेरे युवा साथियो, इस समय मेरे देश में हर क्षेत्र में इतनी युवा ऊर्जा है कि सबकी निगाह हमारी तरफ रहती है।

Agwani-page-39-c.jpg


पीछे जाएँ
38
अगवानी स्वर्ण जयंती की
39
केंद्रीय हिंदी संस्थान
40
आगे जाएँ


अगवानी अनुक्रम
क्रमांक लेख का नाम पृष्ठ संख्या
1. अगवानी आवरण पृष्ठ 1
2. अगवानी स्वर्ण जयंती की 3
3. श्री कपिल सिब्बल संदेश 4
4. एक कविता 5
5. शुभकामना प्रो. अशोक चक्रधर 6
6. संपादकीय प्रो. के. बिजय कुमार 7
7. केंद्रीय हिंदी शिक्षण मंडल : एक परिचय 8
8. मुख्यालय एवं केंद्र 10
9. मुख्यालय एवं केन्द्रों की गतिविधियां 14
10. शिक्षण-प्रशिक्षण एवं नवीकरण 18
11. पुरस्कार 19
12. प्रकाशन 20
13. अंतरराष्ट्रीय मानकहिंदी पाठ्यक्रम 21
14. विदेशी भाषा के रूप में हिंदी 22
15. हिंदी कॉर्पोरा परियोजना 24
16. भाषा-साहित्य सीडी निर्माण परियोजना 26
17. हिंदी लोक शब्दकोश 27
18. भव्य झांकियाँ 28
19. संस्थान की गतिविधियाँ 34
20. उद्धोधन 36
21. ज्योतित हो जन-जन का जीवन 37


वैयक्तिक औज़ार

संस्करण
क्रियाएं
सुस्वागतम्
सहायता