एक विहंगावलोकन पृ-42

ज्ञानकोश से
यहां जाएं: भ्रमण, खोज


Khs-logo-001.png

प्रमुख प्रकाशनों का संक्षिप्त विवरण

संस्थान के प्रकाशन विभाग द्वारा महत्त्वपूर्ण शोध प्रबंध, अनुप्रयुक्त हिंदी भाषा विज्ञान, प्रयोजनमूलक हिंदी पाठ्य पुस्तक माला, संगोष्ठी/कार्यशाला विवरण, प्रसार व्याख्यान, संदर्भ ग्रंथ, पाठ्य पुस्तकें प्रकाशित की गई हैं।

प्रमुख प्रकाशन -

उच्च स्तरीय अनुसंधान के लिए संस्थान के अध्यापकों और छात्रों ने अनुप्रयुक्त भाषा विज्ञान से संबंधित विषयों पर शोधकार्य किए, जिनमें से प्रमुख हैं-

(क ) शोध प्रबंध - आंध्र प्रदेश में हिंदी शिक्षण की समस्याएँ, हिंदी-पंजाबी क्रिया पदबंध, हिंदी-ओड़िया व्याकरणिक कोटियाँ, आओ-हिंदी शब्द कोटियाँ और संरचना, हिंदी और मलयालम में आगत संस्कृत शब्दावली, हिंदी मराठी : क्रिया पदबां, हिंदी असमिया : व्याकरणिक कोटियाँ आदि।

(ख ) अनुप्रयुक्त हिंदी भाषा विज्ञान - संस्थान के प्राध्यापकों द्वारा विभिन्न परियोजनाओं का कार्यक्रमों के संदर्भ में अनुप्रयुक्त भाषा विज्ञान के अनेक विषयों पर विविध प्रकार के कार्य किए हैं, जिन्हें संस्थान ने प्रकाशित किया, उनमें से कुछ इस प्रकार हैं-

  • समान स्रोत और भिन्न वर्तनी की शब्दावली - असमिया - हिंदी और हिंदी - असमिया
  • समान स्रोत और भिन्न वर्तनी की शब्दावली - ओड़िया - हिंदी और हिंदी - ओड़िया
  • तेलुगु और हिंदी ध्वनियों का तुलनात्मक अध्ययन
  • मानक हिंदी का शिक्षण : उपागम एवं उपलब्धियाँ (तीन खण्डों में)
  • हिंदी शब्दावली और प्रयोग : कार्य पुस्तक (दो खण्डों में) बैंकिग हिन्दी पाठ्यक्रम आदि।
Vihangavalokan page 42.jpg

(ग ) संगोष्ठी/कार्यशाला विवरण - संस्थान ने समय-समय पर आयोजित संगोष्ठियों/कार्यशालाओं के जो विवरण प्रकाशित किए गए हैं, उनमें निम्नलिखित उल्लेखनीय है-


कोश निर्माण : सिद्धांत और परंपरा

कोश विज्ञान : सिद्धांत एवं मूल्यांकन, व्याकरण सिद्धांत और व्यवहार, भाषा शिक्षण और भाषा विस्थापन, शैली और शैली विज्ञान, संपर्क भाषा हिंदी, भाषा अनुरक्षण एवं भाषा विज्ञान, अन्य भाषा शिक्षण के कुछ पक्ष, हिंदी शिक्षण अतंर्राष्ट्रीय परिप्रेक्ष्य में, रहीम : आधुनिक संदर्भ, संत कबीर : आधुनिक संदर्भ, रसखान : आधुनिक संदर्भ, मीरा का पुनर्मूल्याकंन आदि।


पीछे जाएँ
41
केंद्रीय हिंदी संस्थान
42
स्वर्ण जयंती 2011
43
आगे जाएँ


विहंगावलोकन अनुक्रम
क्रमांक लेख का नाम पृष्ठ संख्या
1. आमुख 3
2. अनुक्रमणिका 4
3. केंद्रीय हिंदी संस्थान के पचास वर्ष 7
4. संस्थान एक परिचय 17
5. नये युग में प्रवेश 25
6. शिक्षण कार्यक्रम 29
6. शिक्षण प्रशिक्षण कार्यक्रम 34
7. शोध और सामग्री निर्माण 38
8. संस्थान प्रकाशन 41
9. प्रसार कार्यक्रम 44
10. हिंदी की अंतर्राष्ट्रीय भूमिका 49
11. आधारिक संरचनाएँ 53
12. स्वर्ण जयंती वर्ष : कुछ नए संकल्प 56
13. संस्थान के क्षेत्रीय केंद्र दिल्ली 61
14. हैदराबाद 70
15. गुवाहाटी 75
16. शिलांग 78
17. दीमापुर 82
18. मैसूर 84
19. भुवनेश्वर 87
20. अहमदाबाद 90
वैयक्तिक औज़ार

संस्करण
क्रियाएं
सुस्वागतम्
सहायता